फीफा अंडर 17: अमेरिका नॉकआउट राउंड में पहुंचा,घाना को 1-0 से हराया

फीफा अंडर 17: अमेरिका नॉकआउट राउंड में पहुंचा,घाना को 1-0 से हराया

अमेरिका ने स्थानापन्न ​खिलाडी अयो अकिनोला के गोल की बदौलत आज यहां फीफा अंडर 17 वर्ल्‍डकप के ग्रुप चरण के दूसरे मैच में दो बार की चैम्पियन घाना को 1-0 से हराकर नॉकआउट दौर में स्‍थान बना लिया. दोनों टीमें अपने शुरुआती मुकाबले जीतकर नॉकआउट चरण में पहुंचने की दावेदार​ थीं लेकिन इस नतीजे से मजबूत अमेरिका ने ग्रुप ए के पहले स्थान पर कब्जा जमाया. अमेरिका ने पहले मुकाबले में यहां जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में मेजबान भारत को 3-0 से हराया था जबकि घाना ने कोलंबिया को 1-0 से पराजित किया था.

अमेरिका के लिये स्थानापन्न खिलाडी अयो अकिनोला ने 75वें मिनट में गोल दागा. क्रिस डरकिन ने तेजी से भागते हुए गेंद क्रिस गोसलिन की ओर बढ़ाई जो घाना के मिडफील्डरों को चीरते हुए गोल की तरफ बढ़ रहे थे. उन्होंने फारवर्ड अकिनोला को पास दिया. अकिनोला ने गोलकीपर और डिफेंडरों को पछाड़कर शानदार गोल दागकर अपनी टीम को बढ़त दिलाई जो निर्णायक साबित हुई. शुरुआती मैच में भारत को तीन गोल से हराने वाली अमेरिकी टीम के लिए आज चीजें इतनी आसान नहीं रहीं. ग्रुप ए के इस मुकाबले में आज घाना के ताकतवर और तकनीकी तौर पर निपुण खिलाडियों ने उन्हें कड़ी टक्कर दी. हालांकि मौके बनाने के मामले में घाना अव्वल रहा लेकिन इन्हें गोल में तब्दील नहीं कर सका.

पहले हाफ में 23वें मिनट में अमेरिका के ब्लेन फेरी गोल करने के करीब पहुंच गए, उन्होंने बाएं पैर से शानदार शॉट लगाया, पर गोलकीपर डनाल्ड अब्राहिम ने शानदार बचाव किया. एंड्रयू कार्लटन अगले मिनट में बेहतरीन मौका गंवा बैठे. घाना के राशिद अल हसन ने 29वें मिनट में अपनी फुर्ती से विपक्षी खेमे को दबाव में ला दिया, हालांकि वह सफल नहीं हो सके. अमेरिकी टीम गोल करने के लिये बेताब दिख रही थी, लेकिन अपने प्रयासों में असफल रही. 40वें ​मिनट में घाना के कप्तान एरिक अयाह अकेले गेंद लेकर आगे की बढ़े और विपक्षी टीम का गोलकीपर जस्टिन गारसेस भी इसे रोकने के लिये आगे आ गया ​जिस​से उन्हें गोल करने का मौका मिला, पर वह संतुलन गंवाकर इसे भुना नहीं सके. फेरी पहले हाफ के अंतिम मिनट भी गोल करने का सुनहरा मौका चूक गए, जिस पर गोल होने से टीम बढ़त बना सकती थी. घाना ने दूसरे हाफ में आक्रामक शुरुआत की. हालांकि पहले मैच में गोल करने वाले सादिक इब्राहिम को मलाल रहेगा कि वह इतने शानदार मौके पर अपनी टीम को आगे नहीं कर सके.

Source

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *