अंडर19 वर्ल्‍डकप

पृथ्‍वी शॉ के नेतृत्‍व वाली भारतीय टीम ने आईसीसी अंडर19 वर्ल्‍डकप का फाइनल जीतकर देश को गौरवान्वित किया है. न्‍यूजीलैंड में खेले गए प्रतियोगिता के फाइनल में ऑस्‍ट्रेलिया को उसने बेहद आसानी से 8 विकेट से शिकस्‍त दी है. इस जीत के साथ इतिहास रचते हुए भारत ने चौथी बार जूनियर वर्ल्‍डकप पर कब्‍जा जमाया है. भारत के अलावा दुनिया की कोई भी टीम चार बार यह वर्ल्‍डकप नहीं जीत सकी है. मैच में पहले बैटिंग करते हुए ऑस्‍ट्रेलियाई टीम महज 216 रन बनाकर आउट हो गई.

जवाब में भारत ने ओपनर मनजोत कालरा के नाबाद 101 रन की मदद से लक्ष्‍य महज दो विकेट खोकर हासिल कर दिया. मनजोत मैन ऑफ द मैच जबकि टूर्नामेंट में 372 रन बनाने वाले शुभमन गिल मैन ऑफ द टूर्नामेंट रहे.

शुभमन ने जीत के बाद कहा कि मुझे अपनी टीम पर गर्व है. हम वाकई खुशकिस्‍मत हैं कि हमें कोच के रूप में राहुल द्रविड़ जैसा दिग्‍गज मिला. वे मुझसे मेरे गेम के बारे में पूछते थे और मैदान पर कर दिखाने को प्रेरित करते थे. यहां हमने अच्‍छा समय गुजारा. उम्‍मीद है कि आईपीएल में भी अच्‍छा प्रदर्शन करने में सफल रहूंगा. मैन ऑफ द मैच मनजोत ने कहा कि टीम को जीत दिलाकर अच्‍छा लग रहा है. विकेट बल्‍लेबाजी के लिहाज से बेहतरीन था. पूरी टीम के लिए यह बड़ी उपलब्धि है.

भारतीय टीम के कप्‍तान पृथ्‍वी शॉ बोले, खिताबी जीत के बाद कैसा महसूस कर रहा हूं, शब्‍दों में बयान नहीं कर सकता. जीत का श्रेय खिलाड़ि‍यों के साथ सपोर्ट स्‍टाफ को भी जाता है. राहुल सर अपने आप में बड़ी शख्सियत हैं. पृथ्‍वी ने मनजोत, शुभमन, कमलेश नागरकोटी और शिव मावी के प्रदर्शन का खासतौर पर जिक्र किया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *