पिछले साल 12 करोड़ में

पिछले साल आईपीएल ऑक्शन के दौरान इंग्लैंड के तेज गेंदबाज टायमल मिल्स 12 करोड़ रुपए में बिके थे। टायमल मिल्स को रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु की टीम ने खरीदा था, लेकिन इस साल मिल्स को खरीदने में किसी भी टीम ने दिलचस्पी नहीं दिखाई। इस साल फ्रेंचाइजियों ने टायमल मिल्स के अलावा जो रूट, हाशिम अमला, मार्टिन गुप्टिल और डेल स्टेन जैसे खिलाड़ियों को भी नहीं खरीदा।

बाएं हाथ के गेंदबाज मिल्स तेज रफ्तार से गेंद डालने के लिए जाने जाते हैं। टी-20 क्रिकेट में मिल्स को एक बड़ा गेंदबाज माना जाता है। इसके बावजूद भी किसी भी टीम ने उन्हें खरीदना उचित नहीं समझा।

इसके पीछे की वजह पिछले साल का उनका प्रदर्शन भी हो सकता है। पिछले साल आरसीबी की तरफ से खेलते हुए मिल्स कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाए थे। ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज मिचेल स्टार्क की जगह पर मिल्स को आरसीबी में जगह दी गई थी, लिहाजा उनसे स्टार्क की तरह ही प्रदर्शन की उम्मीद की जा रही थी, लेकिन वो ऐसा करने में सफल नहीं रहे।

पिछले साल आईपीएल ऑक्शन से पहले इंग्लैंड की टीम जब भारत दौरे पर आई थी तो टी-20 सीरीज में मिल्स का प्रदर्शन शानदार रहा था। भारतीय पिचों पर उनकी गेंदबाजी को देखते हुए फ्रेंचाइजियों ने उन पर नीलामी के दौरान जमकर बोली लगाई थी। इस साल आईपीएल में नहीं बिकने के बाद मिल्स अब पाकिस्तान सुपर लीग में खेलते नजर आएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *