प्रेगनेंसी

प्रेग्नेंसी के दौरान की गई इन गलतियों से पैदा होते हैं ट्रांसजेंडर बच्चे

ट्रांसजेंडर थर्ड जेंडर होता है जो न तो पुरुष होता है और न ही महिला। ट्रांसजेंडर्स में पुरुष और महिला दोनों के गुण होते हैं।

आपके मन में कई बार ये सवाल उठता होगा कि ट्रांसजेंडर बच्चे कैसे पैदा होते हैं।

इंडियन फर्टिलिटी सोसाइटी के चैप्टर हेड और फर्टिलिटी एक्सपर्ट डॉ. रणधीर सिंह के अनुसार प्रेगनेंसी के पहले तीन महीनों के दौरान बच्चे का लिंग बनता है।

बहुत मामलों में शिशु के ट्रांसजेंडर होने की बात सामने नहीं आ पाती। प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं के द्वारा की गई गलतियों से बच्चे ट्रांसजेंडर पैदा हो सकते हैं।

जानें प्रेगनेंसी के दौरान गलतियां

1. प्रेग्नेंसी के शुरूआती महीने में बुखार आना और हेवी मेडेसिन खाना।

2. प्रेग्नेंसी के दौरान हेवी दवा ली हो। इससे शिशु को नुकसान होता है।
3. प्रेग्नेंसी के दौरान महिला ने टॉक्सिक फूड खाया हो।
4. प्रेग्नेंसी के दौरान एक्सीडेंट या बीमारी जिससे  शिशु के शरीर को नुकसान हो।
5. 10-15 प्रतिशत मामलों में जेनेटिक डिसऑर्डर के कारण शिशु के लिंग पर असर पड़ता है।
6. इससे जुड़े ज्यादातर मामले पता नहीं चल पाते।
7. महिला ने अपने मन से अबॉर्शन की दवा खा ली हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *